पाक को संघर्ष विराम उल्लंघन में मिलेगा करारा जवाब : रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण

0

कश्मीर में भारत-पाकिस्तान सीमा पर पाकिस्तान की ओर से लगातार संघर्ष विराम के उल्लंघन के मामलों पर केंद्रीय रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कड़ी चेतावनी दी है। सीतारमण ने कहा कि भारत संघर्ष विराम का सम्मान करते हैं लेकिन अगर हम पर हमला किया गया तो इसका माकूल जवाब दिया जाएगा। सीतारमण ने कहा कि हमारा काम सीमाओं की रक्षा करना है। भारत-पाक रिश्तों पर उन्होंने कहा कि आतंक और वार्ता एक साथ नहीं चल सकते।
केंद्रीय रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, “जब अप्रत्याशित हमला होता है तो सेना को जवाबी कार्रवाई करने का अधिकार दिया गया है। हम युद्धविराम का सम्मान करते हैं, लेकिन निश्चित रूप से जब कोई अप्रत्याशित हमला होता है तो हमें कार्रवाई करने का हक है।”

बता दें कि भारत और पाकिस्तान के सैन्य अभियान के महानिदेशकों (डीजीएमओ) ने 29 मई को हॉटलाइन पर बातचीत के दौरान जम्मू कश्मीर में सीमा पार से गोलीबारी रोकने के लिए 2003 के संघर्ष विराम समझौते का पालन करने पर सहमति जताई है। रक्षा मंत्री ने दोनों देशों के बीच संघर्ष विराम के समझौते के पालन पर कहा कि आंतक और बातचीत एक साथ नहीं चल सकते।

समझौते का कितना पालन हुआ इस पर रक्षा मंत्री ने कहा कि, “यह कितना सफल हुआ ये तय करना रक्षा मंत्रालय का काम नहीं है। हमारा काम देश की सीमाओं की रक्षा करना है और अगर हमें उकसाया गया तो हम पीछे नहीं हटेंगे। हम यह सुनिश्चित रहेंगे कि अगर हमें उकसाया गया तो इसका जवाब जरूर दिया जाए। भारत को सुरक्षित रखना हमारा कर्तव्य है।” रक्षा मंत्री ने कहा कि आज रक्षा के गोला बारूद की कोई कमी नहीं है। राफले सौदे में घोटाले के आरोप को खारिज करते हुए सीतारमण ने कहा कि ये आधारहीन हैं।

Share.

About Author

Leave A Reply