40 रुपए की जगह निकाल लिए 4 लाख

0

मैंगलुरू : एक डॉक्टर को टोल नाके पर डेबिट कार्ड से भुगतान करना बहुत ज्यादा भारी पड़ गया। दरअसल, हुआ यूं कि टोल पर बैठा आदमी न जाने किस धुन में था। उसने कार्ड स्वैप तो किया मगर 40 रुपए की बजाए निकाल लिए 4 लाख रुपए। बैंक से जब मैसेज डॉक्टर के पास पहुंचा तो उसकी हैरानी का ठिकाना नहीं था। घटना उडुपी के नजदीक कोच्चि-मुंबई नेशनल हाईवे पर मौजूूद टोल नाके की है। डॉ राव अपनी कार से मुंबई जा रहे थे। शनिवार रात साढ़े दस बजे डॉक्टर ने टोल नाके पर मौजूद कर्मचारी को टोल टैक्स देने के लिए अपना डेबिट कार्ड दिया। आदमी ने कार्ड स्वैप कर अकाउंट से 4 लाख रुपए निकाल लिए।
डॉक्टर को बैंक की ओर से जब मैसेज आया तो इस घटना का अंदाजा हुआ। इसके बाद डॉक्टर ने टोल नाके पर मौजूद कर्मचारियों को अपनी परेशानी बताई। मगर वो किसी भी बात को मानने के लिए तैयार नहीं थे। डॉक्टर को अपने ही पैसे वापस लेने के लिए घंटों मशक्कत करना पड़ी। डॉक्टर ने सबसे पहले टोल नाके से 5 किमी दूर कोटा जाकर पुलिस स्टेशन में रिपोर्ट दर्ज करवाई। रात एक बजे शिकायत दर्ज करने के बाद डॉक्टर हेड कांस्टेबल के साथ टोल नाके पर पहुंचा।
तब जाकर टोल नाके पर मौजूद कर्मचारी ने माना कि गलती से उसने गलत नंबर डाल दिया था। हम डॉक्टर को चेक से पूरा पैसे देने के लिए तैयार हैं। मगर डॉक्टर ने कहा कि मुझे पूरा पैसा कैश में ही चाहिए। इसके बाद टोल नाका पर मौजूद कर्मचारियों ने सीनियर अधिकारी से बात की। कंपनी ने सुबह 4 बजे 3,99,960 रुपए की व्यवस्था की। पुलिस का कहना था कि गुंडमी गेट पर मौजूद इस टोल नाके पर कंपनी हर दिन करीब 8 लाख रुपए का कलेक्शन करती है।
कोटेशन
शनिवार रात साढ़े दस बजे डॉक्टर ने टोल नाके पर मौजूद कर्मचारी को टोल टैक्स देने के लिए अपना डेबिट कार्ड दिया। आदमी ने कार्ड स्वैप कर अकाउंट से 4 लाख रुपए निकाल लिए।

Share.

About Author

Comments are closed.