बेटे की खुशी के लिए संन्यास लेने के छह साल बाद फिर से मैदान पर वापसी करेंगे तायबू

0

बच्चे की खुशी के लिए लोग किसी भी हद से जाने के लिए तैयार रहते हैं। इसका उदाहरण क्रिकेट की दुनिया से मिल रही है। जिम्बाब्वे के पूर्व कप्तान और चयनकर्ताओं के पूर्व संयोजक ततेंडा तायबू ने अपने बेटे की खुशी के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने के छह साल बाद फिर से मैदान पर वापसी करेंगे।

ततेंडा तायबू प्रतिस्पर्धी क्रिकेट में वापसी कर श्रीलंका की घरेलू क्रिकेट टीम बादुरालिया सीसी के लिए प्रथम श्रेणी मैचों में खेलेंगे। तायबू ने इस बात की पुष्टि करते हुए कहा कि वह अपने बेटे ततेंडा जूनियर के लिए मैदान पर वापसी कर रहे है।

टेस्ट में सबसे कम उम्र में कप्तानी करने वाले तायबू ने अपने 11 साल के करियर में 28 टेस्ट और 150 एकदिवसीय खेले है। उन्होंने 2012 में 29 साल की उम्र में चर्च में काम पर ध्यान देने के लिए क्रिकेट को अलविदा कह दिया था।

तायबू ने कहा, मेरा बेटा ततेंडा जूनियर हमेशा मुझ से पूछता है कि मैं कैसा क्रिकेट खेलता हूं, अब वह इस खेल में दिलचस्पी ले रहा है। जब मैं खेलता था तब वह बहुत छोटा था और उसे मेरा खेल देखना का मौका नहीं मिला। मैं पूरी तरह से फिट हू औ मुझे लगता है कि मैं अब भी सबसे फिट क्रिकेटरों में से हूं। मुझे लगा कि उसे (ततेंडा जूनियर) दिखाऊं कि मैं कैसा खेलता हूं।

Share.

About Author

Leave A Reply