दूसरे टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को दिया 287 रनों का टारगेट,शमी ने लिए 6 विकेट

0

आस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम ने यहां वाका मैदान पर खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच के चौथे दिन सोमवार को अपनी दूसरी पारी में 243 रन बनाकर भारत के सामने जीत के लिए 287 रनों का लक्ष्य रखा है। आस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 326 रन बनाए थे जबकि भारत अपनी पहली पारी में 283 रन पर ऑलआउट हो गया था। इस तरह आस्ट्रेलिया के पास पहली पारी के आधार पर 43 रन की बढ़त थी।

मेजबान टीम ने मैच के चौथे दिन लंच के बाद चार विकेट पर 190 रन से आगे खेलना शुरू किया और उसकी पूरी टीम 243 रनों पर सिमट गई। टीम के लिए उस्मान ख्वाजा (72) सर्वोच्च स्कोरर रहे। ख्वाजा का यह 14वां टेस्ट अर्धशतक है। उन्होंने 213 गेंदों पर पांच चौके लगाए।
उनके अलावा कप्तान टिम पेन ने 37, एरॉन फिंच ने 25, मार्कस हैरिस ने 20, शॉन मार्श ने 5, पीटर हैंडसकोंब ने 13, टेविस हेड ने 19, पैट कमिंस ने एक और मिशेल स्टार्क ने 14 रनों का योगदान दिया। पीटर हैंडसकोंब 17 रन बनाकर नाबाद रहे।

आस्ट्रेलिया ने सुबह के पहले सेशन में एक भी विकेट नहीं गंवाया और 58 रन जोड़े लेकिन दूसरे सेशन में मोहम्मद शमी कंगारूओं पर कहर बनकर टूटे। शमी ने लगातार दो गेंदों पर पेन और फिंच को आउट कर मेजबान टीम को तगड़ा झटका दिया।

शमी अगले ओवर में अपनी हैट्रिक पर थे लेकिन वह हैट्रिक पूरा नहीं कर सके। हालांकि उन्होंने इसके बाद काफी देर से विकेट पर अपनी आंखें जमा चुके ख्वाजा को ऐसा बाउंसर मारा कि ख्वाजा जब तक इसको समझते तब तक गेंद बल्ले को चूमती हुई पंत के दस्ताने में समा चुकी थी। ख्वाजा टीम के 198 के स्कोर पर सातवें बल्लेबाज के रूप में आउट हुए। इसके कुछ देर बाद ही जसप्रीत बुमराह ने नीची रहती गेंद पर कमिंस को बोल्ड कर आस्ट्रेलिया को आठवां झटका दे डाला।

शमी ने नाथन लायन (5) को हनुमार विहारी के हाथों कैच कराकर अपना छठा विकेट पूरा किया। लायन नौवें बल्लेबाज के रूप में पवेलियन लौटे। हालांकि इसके बाद मिशेल स्टार्क (14) और जोश हेजलवुड (नाबाद 17) ने आखिरी विकेट के लिए महत्वपूर्ण 36 रन जोड़े जिसकी बदौलत आस्ट्रेलिया 243 रन के स्कोर पर तक पहुंच पाई। बुमराह ने स्टार्क को बोल्ड कर मेजबान टीम को 243 रन पर आलआउट कर दिया।

आस्ट्रेलिया ने जहां पहले सेशन में 58 रन जोड़ने के बाद एक भी विकेट नहीं गंवाया था, वहीं दूसरे सेशन में उसने केवल 53 रन के अंदर अपने छह विकेट गंवा दिए। भारत की ओर से शमी ने 56 रन देकर सर्वाधिक छह विकेट लिए जो उनके करियर की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी है। शमी ने चौथी बार अपने करियर में पांच या उससे ज्यादा विकेट लिए हैं। उनके अलावा जसप्रीत बुमराह ने 39 रन पर तीन विकेट और ईशांत शर्मा ने 45 रन पर एक विकेट झटके।

Share.

About Author

Leave A Reply