चौथे वनडे मैच में विराट कोहली तोड़ सकते है ये पांच बड़े रिकार्ड्स, निकल सकते हैं संगकारा से आगे

0

विराट कोहली हर गुजरते मैच के साथ नया रिकॉर्ड तोड़ रहे हैं। लेकिन इसके साथ ही कोहली से लोगों की उम्मीदें भी बढ़ रही हैं। कोहली ने पुणे वनडे में फिर से शतक जमा दिया। यह उनका लगतार तीन वनडे में तीसरा शतक था। अब कोहली के निशाने पर लगातार चार शतकों का रिकॉर्ड है जो आजतक सिर्फ 1 बल्लेबाज अपने नाम कर पाया है। संगकारा ने साल 2015 वर्ल्ड कप में यह रिकॉर्ड बनाया था। उनके बाद कोई इस रिकॉर्ड को तोड़ नहीं पाया है लेकिन जिस तरह की फॉर्म में कोहली चल रहे हैं। उसे देखते हुए यह रिकॉर्ड टूट सकता है। वैसे इस रिकॉर्ड के अलावा भी 5 रिकॉर्ड हैं जो कोहली तोड़ने के लिए आमादा है।

वनडे में एक कैलेंडर ईयर में सबसे ज्यादा शतक लगाने का रिकॉर्ड सचिन तेंदुलकर के नाम है। सचिन ने साल 1998 में 34 वनडे खेलते हुए 9 शतक जमाए थे तब से यह रिकॉर्ड आज तक कोई तोड़ नहीं पाया है। गांगुली और वॉर्नर 7-7 शतक लगाते हुए इस रिकॉर्ड के करीब जरूर पहुंचे हैं लेकिन कभी तोड़ नहीं पाए। इस तरह से कोहली के पास 20 साल पुराने इस रिकॉर्ड को तोड़ने का मौका जरूर है। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सभी फॉर्मेट में सबसे ज्यादा शतकों की बात की जाए तो यह रिकॉर्ड अभी सचिन तेंदुलकर के नाम है। उनके नाम 100 शतक हैं। दूसरे नंबर पर रिकी पोंटिंग 71 शतक और तीसरे नंबर पर कुमार संगकारा 63 शतकों के साथ हैं। चौथे नंबर पर मौजूद कोहली 61 कोहली के पास मौका होगा कि वह मौजूदा सीरीज में 2 शतक लगाते हुए संगकारा के 63 शतकों को पीछे छोड़ दें और खुद नंबर 3 बन बैठें।

कोहली ने भारतीय सरजमीं पर अभी लगातार चार शतक जमाए हैं। किसी एक देश में लगातार सबसे ज्यादा शतकों का रिकॉर्ड पाकिस्तान के बाबर आजम के नाम है। उन्होंने 2016-17 में यूएई में 5 शतक लगाए थे। ऐसे में अगर कोहली आखिरी दो मैचों में दो शतक लगाने में कामयाब हो जाते हैं तो वह इस रिकॉर्ड को तोड़ देंगे। वनडे क्रिकेट में अभी तक 13 बल्लेबाजों ने 10 हजार रन बनाए हैं और कोहली 10,183 रनों के साथ 12वें नंबर पर हैं। ऐसे में वह जल्दी ही 11वें नंबर पर काबिज तिलकरत्ने दिलशान को पीछे छोड़ना चाहेंगे। दिलशान के नाम 10,290 रन हैं।

एक वनडे सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के ग्रैग चैपल के नाम है। चैपल ने साल 1980-81 में बेनसन एंड हेज वर्ल्ड सीरीज में 14 मैचों में 68.60 की औसत से 686 रन बनाए थे। उनके बाद से इस रिकॉर्ड को कोई तोड़ नहीं पाया है। कोहली ने साल 2017-18 में द. अफ्रीका सीरीज में 6 मैचों में 558 रन बनाए थे लेकिन इस रिकॉर्ड से काफी पीछे छूट गए थे लेकिन उनके पास इस बार यह मौका जरूर होगा। कोहली मौजूदा सीरीज में 3 मैचों में 404 रन बना चुके हैं और अब उन्हें अगले दो मैचों में 283 रनों की जरूरत है। जो उनके मौजूदा फॉर्म को देखते हुए ज्यादा मुश्किल दिखाई नहीं देता।

Share.

About Author

Leave A Reply