स्टेट बैंक का चौथी तिमाही मुनाफा दोगुने से ज्यादा बढ़ा।

0

नयी दिल्ली: देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक का शुद्ध लाभ 31 मार्च को समाप्त चौथी तिमाही में दोगुने से भी ज्यादा बढ़कर 2,814.82 करोड़ रपये हो गया। सार्वजनिक क्षेत्र के इस बैंक का एकल शुद्ध लाभ पिछले साल की इसी तिमाही में 1,263.81 करोड़ रपये रहा था। हालांकि, समाप्त वित्त वर्ष 2016-17 में बैंक का एकीकृत शुद्ध लाभ 98 प्रतिशत गिरकर 241.23 करोड़ रपये रह गया। इससे पिछले वित्त वर्ष 2015-16 में बैंक ने 12,224.59 करोड़ रपये का शुद्ध लाभ हासिल किया था। बैंक की जनवरी से मार्च 2017 तिमाही में एकल आधार पर कुल आय 7.8 प्रतिशत बढ़कर 57,720 करोड़ रपये रही। एक साल पहले इसी अवधि में यह 53,526.97 करोड़ रपये थी। बंबई शेयर बाजार को भेजी सूचना में बैंक ने यह जानकारी दी है। इस दौरान बैंक की सकल गैर-निष्पादित परिसंपत्तियां मामूली बढ़कर 6.9 प्रतिशत हो गई जो कि इससे पिछले साल इसी अवधि में 6.5 प्रतिशत थी। हालांकि, चौथी तिमाही में बैंक का शुद्ध एनपीए पिछले साल के 3.81 प्रतिशत से घटकर 3.71 प्रतिशत रह गया। वित्त वर्ष 2016-17 के दौरान बैंक की कुल आय 9.2 प्रतिशत बढ़कर 2,98,640.45 करोड़ रपये रही। वित्त वर्ष 2015-16 में उसकी कुल आय 2,73,461.13 करोड़ रपये रही थी। शेयर बाजार में स्टेट बैंक का शेयर दोपहर एक बजे के आसपास तेजी से बढ़कर 310.60 रपये पर पहुंच गया।

Share.

About Author

Comments are closed.