सुशील मोदी फिल्मी अंदाज में बोले…

0

पटना। बिहार की राजधानी पटना में आरजेडी कार्यकर्ता इस वक्त हंगामा कर रहे हैं। ये लोग बीजेपी नेता सुशील मोदी के विरोध में बीजेपी दफ्तर पर पत्थरबाजी कर रहे हैं। हाल के दिनों में सुशील मोदी ने लालू यादव और उनके परिवार पर एक के बाद एक कई घोटालों के आरोप लगाए हैं। पत्थरबाजी को लेकर सुशील मोदी ने कहा कि पुलिस की मौजूदगी में आरजेडी कार्यकर्ताओं का हंगामा हो रहा है। यह प्रतिबंधित क्षेत्र है। नीतीश सरकार के संरक्षण में यह हंगामा हो रहा है। नीतीश कभी बीजेपी के साथ नहीं आएंगे। उन्हें लालू का साथ पसंद है। इससे पहले मंगलवार को बिहार की राजनीति में हलचल मच गई थी जब लालू प्रसाद यादव ने ट्वीट किया था कि बीजेपी को नए अलायंस पार्टनर्स मुबारक हो। लालू झुकने और डरने वाला नहीं है। जब तक आखिरी सांस है फासीवादी ताकतों के खिलाफ लड़ता रहूंगा। इस ट्वीट के बाद लगा कि कहीं गठबंधन खतरे में तो नहीं है, लेकिन इस ट्वीट के कुछ देर बाद ही लालू यादव ने अपने इसी ट्वीट पर जवाब देते हुए लिखा कि ज्यादा लार मत टपकाओ, गठबंधन अटूट है। अभी तो समान विचारधारा के और दलों को साथ जोड़ना है। मैं बीजेपी के सरकारी तंत्र और सरकारी सहयोगियों से नहीं डरता। आरएसएस-बीजेपी को लालू के नाम से कंपकंपी छूटती है। इनको पता है कि लालू इनके झूठ, लूट और जुमलों के कारोबार को ध्वस्त कर रहा है तो दबाव बनाओ। हालांकि शाम तक जब मीडिया में महागठबंधन टूटने की खबरें नहीं थमी तो अंत में राजद के राष्ट्रीय प्रवक्ता मनोज झा ने पत्रकारों से बातचीत की। झा ने कहा कि लालू प्रसाद और राजद इस प्रकार की गीदड़ भभकियों से डरने वाले नहीं हैं। हमें पता है कि देश में क्या हो रहा है। लालू प्रसाद, अरविंद केजरीवाल, ममता बनर्जी की आवाज को बंद करने की कोशिश की जा रही है। आवाज खत्म नहीं होगी और अब अवाम इस लड़ाई को अपने हाथ में लेगी। झा ने कहा कि लालू प्रसाद और राजद इस प्रकार की गीदड़ भभकियों से डरने वाले नहीं हैं। हमें पता है कि देश में क्या हो रहा है। लालू प्रसाद, अरविंद केजरीवाल, ममता बनर्जी की आवाज को बंद करने की कोशिश की जा रही है। आवाज खत्म नहीं होगी और अब अवाम इस लड़ाई को अपने हाथ में लेगी।

Share.

About Author

Comments are closed.