सहारा की संपत्ति को खरीदने के लिए कई बड़े कंपनियों ने रूचि दिखायीं ।

0

नई दिल्ली : सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों के अनुसार सहारा समूह को जल्द राशि जुटाने और उसे भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) के पास जमा कराने के लिए अपनी संपत्ति को मजबूरन बेचना पड़ रहा है. इन पृथक सम्पत्तियों को खरीदने में टाटा, गोदरेज, अडाणी और पतंजलि ने सहारा समूह की 7,400 करोड़ रुपये मूल्य की 30 संपत्तियों को खरीदने की इच्छा जताई है.
सहारा की संपत्तियों में अधिकांश जमीन के टुकड़े हैं जिनकी नीलामी रीयल एस्टेट सलाहकार नाइट फ्रैंक इंडिया द्वारा की जा रही है. बताया जाता है कि कई रीयल एस्टेट कंपनियां भी सहारा की संपत्तियां खरीदना चाहती हैं. इनमें ओमैक्स, एलडेको के अलावा उच्च संपदा वाले लोगों के साथ सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी इंडियन ऑयल शामिल हैं.वहीं चेन्नई के अपोलो अस्पताल ने लखनऊ में सहारा का अस्पताल खरीदने की इच्छा जताई है.

Share.

About Author

Comments are closed.