अब प्ले स्टोर पर राष्ट्रीय उजाला

शराबबंदी के सर्मथन में बुजुर्ग, जवान, महिलाओं और छात्र छात्राओं ने पूरी तरह हिस्सा लिया।

0

सुपौल। जिले में शराबबंदी के सर्मथन में एनएच-57 पर आयोजित मानव श्रृंखला कार्यक्रम में बड़े बुजुर्ग, जवान, महिलाओं और छात्र छात्राओं ने पूरी तरह भागीदारी कर इसे सफल बनाया। इस मौके पर जिला प्रशासन प्रशासन की ओर से सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम किया गया था। जिले के डीएम के अलावा एसपी कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए शनिवार सुबह से ही आयोजन स्थल पर पर डटे रहे। इस मौके पर सरकारी, गैर सरकारी स्कूली छात्र-छात्राओं के अलावा जिले के तमाम राजनीतिक दल और लोग शामिल होकर नशामुक्त बिहार का संदेश दिया। जो महिलाएं अपने घर की दहलीज से पहले निकलने का पहले साहस नहीं करती थी, वह शनिवार को हुए मानव श्रृंखला कार्यक्रम की कतार में आगे रहीं जो ‘नशामुक्त बिहार, चूंकि नशा के कारण उजड़े घर परिवार’ जैसे नारे लगा रही थीं। वहीं, मानव श्रृंखला कार्यक्रम में आए वाहनों पर इससे संबंधित गाने भी सुनाई दे रहे थे। सुपौल जिले के सीमा क्षेत्र नरपतगंज के आगे महासेतु के पार निर्मली अनुमंडल मधुबनी सीमा तक लगभग पांच लाख लोगों की कतार लगी हुई थी। नीतीश सरकार की अगुवाई में चल रहे इस अभियान का हर उम्र के लोगों ने बढ़-चढ़ कर समर्थन किया ।

Share.

About Author

Comments are closed.