विजय माल्या के भारत लाने के मामले में CBI को लगा झटका |

0

शराब कारोबारी विजय माल्या के भारत लाने की कोशिशों पर पानी फिरता नज़र आ रहा है , क्योंकि वेस्टमिंस्टर की अदालत के दो जज ने तिहाड़ को असुरक्षित माना है. उल्लेखनीय है कि वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट की जिस अदालत में माल्या के खिलाफ सुनवाई चल रही है, उसके दो जज तिहाड़ को इससे पहले मानवाधिकार मामलों में असुरक्षित मान कर सीबीआई की ओर से दायर याचिका खारिज कर चुके हैं. इस वदेशी कोर्ट का मानना है कि जिन शर्तों पर माल्या को तिहाड़ में रखा जाएगा, उनसे उनके मानवाधिकारों का उल्लंघन होगा. हैरानी की बात यह है कि मामले की गंभीरता जानने के बावजूद कोर्ट ने यह फैसला दिया. इसे सीबीआई को झटका लगा है. बता दें कि इसी अदालत के जजों ने इसके पूर्व 16 अकबर को ब्रिटेन के बुकी संजीव कुमार चावला और 12 अक्टूबर को धोखाधड़ी के आरोपी ब्रिटिश भारतीय दंपती जतिंदर तथा आशा रानी अंगुराला के पक्ष में जिला जज एमा अर्बथनॉट ने फैसला सुनाया था.एमा ही माल्या मामले की भी सुनवाई कर रहे हैं. इसलिए आशंका हो रही है.माल्या मामले में अदालत 20 नवंबर को अगली सुनवाई करेगी.

Share.

About Author

Leave A Reply