लालू के घर दही-चूड़े का भोज

0

राष्ट्रीय उजाला संवाददाता
पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच क्या कोई सियासी खिचड़ी पक रही है। नीतीश के ताजा कदम से यही सवाल एक बार फिर उठा है। पिछले दिनों प्रकाश पर्व कार्यक्रम में पीएम नरेंद्र मोदी से गुफ्तगू करते नजर आए नीतीश कुमार। उन्होंने अब भाजपा को लालू के घर होने वाले आयोजन के लिए निमंत्रण भेजा है। दरअसल मकर संक्रांति के अवसर पर राजद अध्यक्ष लालू यादव के घर का चूड़ा-दही का भोज कुछ खास ही चर्चित होता है। इस बार भी लालू-राबड़ी के दस सर्कुलर आवास पर विशेष भोज का आयोजन हुआ है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस बार लालू प्रसाद के आवास पर भोज में पक्ष और विपक्ष के नेता भी शामिल हुए। सभी नेताओं को आमंत्रण भेज दिया गया है। भोज का आयोजन 14 जनवरी को 10 बजे होगा। हालांकि भाजपा प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय के अनुसार उन्हें रिपोर्ट लिखे जाने तक कोई निमंत्रण नहीं मिला है।
दो दिन चलेगा भोज का आयोजन
जानकारी के मुताबिक 14 जनवरी को भोज के अलावा एक भोज उसके अगले दिन भी आयोजित होगा। 15 जनवरी के भोज में लालू मुस्लिम धर्मावलंबियों के लिये भोज का आयोजन कर रहे हैं। उन्हें इस विशेष भोज के लिये आमंत्रित किया जा रहा है। 14 जनवरी वाले भोज में पक्ष-विपक्ष के नेता और बिहार सरकार के मंत्री के अलावा पार्टी कार्यकर्ता और मीडिया के लोग भी शामिल होंगे। दूसरे दिन वाले भोज में मुस्लिम समुदाय के लोगों को आमंत्रित किया गया है।
गत वर्ष का भोज भी रहा चर्चा में
लालू के आवास पर पिछले साल आयोजित भोज काफी चर्चा में रहा था। इस मौके पर नीतीश कुमार लालू प्रसाद के आवास पर पहुंचे थे। लालू ने सीएम नीतीश का दही का तिलक लगाकर स्वागत किया। भोज के बहाने दोनों दल आपसी एका को भी दिखाते हैं।

पिछले साल मिला था आशीर्वाद
पिछली बार लालू ने नीतीश कुमार को दही का टीका लगाते हुए कहा था कि इस तिलक से ग्रह गोचर सब दूर हो जायेगा। लालू ने तिलक लगाकर कहा था कि सब देख लो लालू-नीतीश एक हैं। वहीं नीतीश कुमार ने कहा था कि यह तिलक बड़े भाई द्वारा दिये गये आशीर्वाद की तरह है।

Share.

About Author

Comments are closed.