लालबाग मंडी में आग, 1 करोड़ का माल खाक

0

लोनी स्थित लालबाग फल एवं सब्जीमंडी में शनिवार दोपहर भीषण आग लग गई। मामले की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड की 3 गाड़ियों ने करीब 3 घंटे में आग पर काबू पाया। इस हादसे में करीब एक करोड़ रुपये का नुकसान होने की बात सामने आई है। पुलिस आग लगने के कारणों का पता लगा रही है। वहीं, मंडी समिति के अध्यक्ष मान सिंह ने आशंका जताई है कि कुछ शरारती तत्वों ने घास-फूस में आग लगाकर घटना को अंजाम दिया है। उन्होंने बताया कि कुछ लोग मंडी को यहां से हटाना चाहते है। बता दें कि लालबाग आरडब्ल्यूए और मंडी समिति के बीच मंडी को हटाए के लिए विवाद चल रहा है। वहीं, मंडी समिति ने इसके लिए अन्य स्थान पर जगह देने की मांग की है। फिलहाल यह मामला कोर्ट में है। आज प्रभावित हो सकती है सप्लाई : मंडी समिति के पदाधिकारियों का कहना है कि आग लगने से रविवार को दिल्ली और आसपास के एरिया में फल व सब्जी की सप्लाई प्रभावित हो सकती है। हालांकि हमारी कोशिश होगी कि लोगों को दिक्कत का सामना न करना पड़े। मंडी में जितनी दुकानें बची हैं, वहां से सप्लाई जारी रखी जाएगी। फल मंडी को अधिक नुकसान : लालबाग सब्जी मंडी के एक तरफ सब्जी मंडी है। मंडी समिति के पदाधिकारियों के मुताबिक, आग की वजह से फल मंडी को ज्यादा नुकसान हुआ है। देर से आई फायर ब्रिगेड : व्यापारी जमील खान ने आरोप लगाया कि मंडी में आग लगने की सूचना फायर ब्रिगेड को दी गई, लेकिन विभाग की गाड़ियां करीब 2 घंटे बाद मौके पर पहुंचीं। इस दौरान खुद ही आग बुझाने की कोशिश करते रहे। जांच कर रही है टीम : एसडीएम प्रेमरंजन ने बताया कि प्रशासन की टीम के मुताबिक मंडी में 41 दुकानें जल गई हैं। पीड़ित दुकानदारों को मुआवजा दिलाने का प्रयास किया जाएगा। वहीं, लोनी के विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने पीड़ित दुकानदारों को आश्वासन दिया कि उनके रोजगार पर कोई फर्क नहीं पड़ने दिया जाएगा।
कोटेशन
बता दें कि लालबाग आरडब्ल्यूए और मंडी समिति के बीच मंडी को हटाए के लिए विवाद चल रहा है। वहीं, मंडी समिति ने इसके लिए अन्य स्थान पर जगह देने की मांग की है। फिलहाल यह मामला कोर्ट में है।

Share.

About Author

Comments are closed.