सर्जिकल स्‍ट्राइक में शामिल कमांडो संदीप सिंह जम्‍मू कश्‍मीर के तंगधार में शहीद

0

नॉर्थ कश्‍मीर के कुपवाड़ा में सोमवार को आतंकियों से मोर्चा लेते हुए सेना के जवान लांस नायक संदीप सिंह शहीद हो गए हैं। इस एनकाउंटर में चार आतंकियों के मारे जाने की खबरें भी हैं। लांस नायक संदीप सिंह के घर में उनकी पत्‍नी और पांच वर्ष का बेटा है। संदीप चार पैरा टीम का हिस्‍सा थे और साल 2016 में हुई सर्जिकल स्‍ट्राइक में भी उनका अहम रोल था। लांस नायक संदीप ने इस एनकाउंटर में तीन आतंकियों को ढेर किया।

लांस नायक संदीप सिंह उसी कमांडो टीम का हिस्‍सा थे जिसने सर्जिकल स्‍ट्राइक में पीओके में घुसकर आतंकियों कैंप्स तबाह किए थे। संदीप जून 2007 में सेना का हिस्‍सा बने थे। एलओसी पर शनिवार से ही आतंकियों खिलाफ एनकाउंटर जारी था। तीन आतंकी जहां शनिवार को ढेर हुए तो वहीं रविवार को दो आतंकी मारे गए हैं। श्रीनगर में रक्षा प्रवक्‍ता कर्नल राजेश कालिया ने जानकारी दी कि सोमवार को कुछ और आतंकी इस एनकाउंटर में मारे गए थे। संदीप पंजाब के गुरदासपुर के कोटा खुर्द गांव के रहने वाले थे।

सेना को श्रीनगर से 190 किलोमीटर पठरी बेहाक में, जो तंगधार में आता है, वहां कुछ आतंकियों के छिपे होने की जानकारी मिली थी। इसके बाद शुरू हुए एनकाउंटर में आतंकियों को ढेर किया गया। सूत्रों के मुताबिक लांस नायक संदीप सिंह को सिर में गोली लग गई थी और जिस समय उन्‍हें एनकाउंटर साइट से बाहर निकाला जा रहा था, उसी समय उनकी मौत हो गई थी। संदीप ने अपनी जान की परवाह न करते हुए अपनी टीम के बारे में सोचा। जैसे ही उन्‍हें इस बात का आभास हुआ कि उनकी टीम खतरे में है, वह दुश्‍मन के सामने खड़े हो गए। मारे गए आतंकियों के पास से सेना को भारी मात्रा में हथियार भी बरामद हुए हैं।

28-29 सितंबर को सेना की तरफ से पीओके में सर्जिकल स्‍ट्राइक की गई थी। यह सर्जिकल स्‍ट्राइक 18 सितंबर 2016 को उरी स्थित आर्मी कैंप पर हुए आतंकी हमले के बाद हुई थी जिसमें 18 जवान शहीद हो गए थे। लांस नायक संदीप सिंह उसी पैरा-कमांडो टीम में शामिल थे जिन्‍होंने पीओके में आतंकी कैंप्‍स को तबाह किया था। पुलसि सूत्रों की ओर से बताया गया है कि मारे गए सभी आतंकियों के शव बरामद कर लिए गए हैं।

Share.

About Author

Leave A Reply