अरुणाचल सेक्टर में चीनी सेना की घुसपैठ, सेना ने दिया कड़ा जवाब तो लौटना पड़ा वापस

0

एक बार फिर चीन की तरफ भारत की सीमा में घुसपैठ देखने को मिली है। रिपोर्ट के अनुसार, इसी महीने की शुरुआत में चीन की पीपुल्स आर्मी ने लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) पार कर अरुणाचल प्रदेश कर घुसपैठ कर ली थी, लेकिन भारतीय जवानों के आपत्ति के बाद उन्हें वापस लौटना पड़ा। चीन की सेना अरुणाचल प्रदेश की दिबांग घाटी में घुस आई थी। डोकलाम गतिरोध खत्म होने के बाद कई बार चीन की सेना के एलएसी पार कर भारत में घुसपैठ करते हुए देखा जा चुका है।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, भारत की सीमा में चीनी घुसपैठ का यह 10 दिन पहले का मामला है, जब अरुणाचल प्रदेश में पीपील्स लिबरेशन आर्मी ने घुसपैठ कर दी थी। भारतीय सीमा में चीनी जवानों को देखकर सेना ने उनसे बात कर कहा कि तुम भारत की सीमा में प्रवेश कर चुके हो। प्रोटोकोल के तहत दोनों ही देशों की सेनाओं ने इस मामले को वही खत्म कर दिया और चीन की सेना को वापस लौटना पड़ा।

यह पहली बार नहीं है जब सीमा पार से चीनी सेना की घुसपैठ देखी गई है। इसी साल अगस्त महीने में चीन की सेना ने उत्तराखंड में तीन बार घुसपैठ की थी। इस दौरान चीनी सेना उत्तराखंड में करीब 4 किमी तक घुसपैठ करने में कामयाब हुई थी। वहीं, पूर्वी लद्दाख के दामचौक में भी चीनी सेना ने 300 से 400 मीटर तक घुसपैठ कर कई तंबू तान लिए थे, जिसके बाद जब भारतीय सेना की कड़ी आपत्ति जताई तो चीनी सेना को वापस लौटना पड़ा था।

बता दें कि पीएम मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग अगले महीने अर्जेंटीना में मुलाकात करने वाले हैं। इस दौरान दोनों देशों के बीच आतंकवाद से लेकर अफगानिस्तान में शांति स्थापित करने पर बातचीत होगी। इससे पहले पीएम मोदी एससीओ समिट में शी जिनपिंग से मुलाकात की थी।

Share.

About Author

Leave A Reply