यूपी सरकार ने शिया वक्फ बोर्ड के खिलाफ की बड़ी कार्रवाई।

0

Darbhanga: Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath addresses a public rally in Darbhanga on Thursday to highlight the achievements NDA government in the past three years. PTI Photo (PTI6_15_2017_000182B)

लखनऊ : उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने शिया वक्फ बोर्ड के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए बोर्ड के छह सदस्यों को पद से हटा दिया है. वहीं वक्फ बोर्ड में भ्रष्टाचार को लेकर आज़म खान और उनकी पत्नी के सीबीआई जांच की जद में आने के आसार हैं. बता दें कि यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार ने शिया वक्फ बोर्ड के सदस्यों में शामिल पूर्व राज्यसभा सांसद अख्तर हसन रिज़वी, मुरादाबाद के सैय्यद वली हैदर, मुज़फ्फरनगर की अफशा ज़ैदी, बरेली के सय्यद अज़ीम हुसैन, शासन में विशेष सचिव नजमुल हसन रिज़वी और आलिमा ज़ैदी को पद से हटा दिया है.वहीं, दूसरी ओर वक्फ बोर्ड में भ्रष्टाचार के मामले में आज़म खान और उनकी पत्नी के सीबीआई जांच की जद में आने के आसार बढ़ गए हैं. सेंट्रल वक्फ कमेटी की रिपोर्ट में भी आज़म खान की भूमिका पर सवाल उठाए हैं. योगी सरकार ने इसी रिपोर्ट को आधार बनाकर वक्फ बोर्ड की सीबीआई जांच के आदेश दिए हैं.जौहर यूनिवर्सिटी में वक्फ की जमीन रजिस्ट्री कराने और प्रभाव का इस्तेमाल कर शत्रु संपत्ति को जौहर यूनिवर्सिटी में शामिल करने के मामले में सीबीआई आज़म खान की भूमिका की जांच करेगी. उल्लेखनीय है कि योगी सरकार के वक्फ बोर्डों को भंग करने के नोटिस के बाद से हंगामा मचा हुआ है . इस मामले में शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने कहा कि अदालत का दरवाजा खटखटाएंगे वहींअल्पसंख्यक मामलों के मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने कहा कि वक्फ बोर्डों के खिलाफ हजारों शिकायतें मिली है. भ्रष्टाचार की शिकायत लेकर लोग लगातार आ रहे हैं.

Share.

About Author

Comments are closed.