यूपी, गुजरात और मध्य प्रदेश से मानसून की वापसी

0

rainउत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, गुजरात और पश्चिमी मध्य प्रदेश से मॉनसून ने वापसी कर ली है. मौसम विभाग के मुताबिक मॉनसून की वापसी की रेखा बहराइच, नौगांव, शाजापुर, अहमदाबाद, और ओखा से होकर गुजर रही है. मॉनसून की वापसी के लिए स्थितियां पूरी तरह से अनुकूल हैं और ऐसा अनुमान है कि अगले तीन चार दिन में पूरे देश से मॉनसून की वापसी हो जाएगी.
मौसम विभाग के एडीजी एम महापात्र के मुताबिक मॉनसून की वापसी इस बार अन्य सालों के मुकाबले इस बार लेट रही है. महापात्र का कहना है कि मॉनसून की वापसी देर से हुई है इसका ये मतलब कतई नहीं लगाया जाना चाहिए कि इस बार ठंड देरी से शुरू होगी. उनका कहना है कि मानसून की देरी से ठंड का कोई भी सीधा सीधा कनेक्शन नहीं है.
उधर दूसरी तरफ पूर्वोत्तर भारत में मॉनसून की बारिश ने एक बार फिर से तेजी पकड़ ली है. ऐसा अनुमान है कि अगले 48 घंटों तक नागालैंड, मणिपुर, मेघालय, असम, मिजोरम और अरुणाचल प्रदेश में तेज बारिश की खासी संभावना है. मौसम विभाग का कहना है बंगाल की खाड़ी से आ रही नम हवाएं पूर्वोत्तर भारत में अभी फिलहाल जोरदार बारिश कराने की स्थिति में हैं. ऐसा अनुमान है कि यहां पर अगले दो दिनों में कई जगहों पर मूसलाधार बारिश की खासी संभावना है. इसके चलते मौसम विभाग ने अलर्ट भी जारी किया है. इसी के साथ मौसम के जानकारों का कहना है कि दक्षिण भारत में घने बादलों का सिलसिला एक बार फिर से बन रहा है और कर्नाटक और केरल में जोरदार बारिश की संभावना बनी हुई है.
उत्तर भारत की बात करें तो मॉनसून की वापसी के साथ ही यहां पर उत्तर-पश्चिम से चलने वाली हवाओं ने जोर पकड़ लिया है. गंगा-यमुना के मैदानी इलाकों में हवाएं ऊपर से नीचे की तरफ उतर रही हैं इससे वायुदाब बढ़ गया है और आसमान पूरी तरह से साफ हो गया है. दिल्ली समेत उत्तर-पश्चिम भारत के तमाम इलाकों में नीले आसमान के बीच तेज धूप खिली हुई है. इसी के साथ तापमान में गिरावट का सिलसिला भी शुरू हो गया है. ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि अगले एक हफ्ते में मैदानी इलाकों में हल्की ठंड पांव पसार लेगी और सुबह शाम की हल्की ठंड महसूस की जाने लगेगी.

Share.

About Author

Comments are closed.