मायावती फिर बिफरीं, कहा… ईवीएम मामले को कोर्ट में ले जाऊंगी

0

नई दिल्ली : विधानसभा चुनावों में ुईवीएम में कथित गड़बड़ी को लेकर घमासान मचा हुआ है। इस मसले को लेकर बीएसपी सुप्रीमो मायावती एक बार फिर से बीजेपी पर बिफरी हैं। अब उन्होंने ईवीएम मामले को कोर्ट में ले जाने की बात कही है। उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव में मोदी की जीत ईमानदारी की जीत नहीं है। यह बेईमानी और लोकतंत्र की हत्या की जीत है।
उन्होंने कहा कि बीजेपी की इतनी बड़ी जीत के बाद भी मोदी के चेहरे पर कोई हंसी नहीं दिख रही है। 325 सीट जीतने के बाद भी उनके चेहरे से रौनक गायब है, जो दर्शाती है कि यह धांधली की जीत है। बीएसपी सुप्रीमो ने कहा कि ये लोग 2019 तक आरक्षण को कुछ नहीं करेंगे, लेकिन अगर 2019 में सत्ता में आए, तो आरक्षण को खत्म कर देंगे। उन्होंने कहा कि बीजेपी लोगों का दिमाग बदलना चाहती है।
यह पहला मौका नहीं है, जब पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने ुईवीएम पर सवाल उठाए हैं। यूपी विधानसभा चुनाव के परिणाम आने और बीजेपी की ऐतिहासिक जीत के बाद पहली ही प्रेस कांफ्रेंस में मायावती ने ईवीएम में गड़बड़ी की आशंका जाहिर की थी। इसके अलावा आम आदमी पार्टी, सपा और कांग्रेस ने भी ुईवीएम में गड़बड़ी का आरोप लगाया है।
कोटेशन
अब मायावती ने ईवीएम मामले को कोर्ट में ले जाने की बात कही है। उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव में मोदी की जीत ईमानदारी की जीत नहीं है। यह बेईमानी और लोकतंत्र की हत्या की जीत है।
बॉक्स
ईवीएम पर बैन के लिए प्रदर्शन
मेरठ। बहुजन सशक्तिकरण संघ के बैनर तले लोगों ने कल डीएम आॅफिस पर प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने आरोप लगाया कि हाल में हुए उत्तर-प्रदेश, उत्तराखंड चुनाव में जिस ईवीएम का प्रयोग किया गया था, उनका डाटा एक पार्टी विशेष के लिए हैक किया गया था। उनका कहना था कि पूरे प्रदेश के विधानसभा क्षेत्रों से ईवीएम घोटाले की खबर आ रही है। अमेरिका, जर्मनी, आयरलैंड जैसे देश ने ईवीएम मशीनों पर प्रतिबंध लगा रखा है, लेकिन भारत में इवीएम का प्रयोग किया जा रहा है, जो लोकतंत्र के खिलाफ है। प्रदर्शनकारियों ने राष्ट्रपति के नाम दिए गये ज्ञापन में विधानसभा चुनाव 2017 को निरस्त करने और ईवीएम मशीन पर प्रतिबंध की मांग की है।

Share.

About Author

Comments are closed.