महिलाएं कई बार सहमित से बनाए गए संबंध को भी रेप की घटना बता देती हैं।

0

नई दिल्ली:दिल्ली हाईकोर्ट ने एक अहम फैसले में कहा है कि महिला और पुरुष का ब्रेकअप हो जाने के बाद महिला कई बार सहमित से बनाए गए संबंध को भी रेप की घटना बता देती हैं। हाईकोर्ट की जस्टिस प्रतिभा रानी ने ये टिप्पणी करते हुए एक शख्स को रिहा कर दिया। इस शख्स पर महिला ने पहले रेप का आरोप लगाया था। बाद में उससे शादी कर ली। इसके बाद उसने डोमेस्टिक वॉयलेंस के आरोप में फिर केस दर्ज कराया था।
हाईकोर्ट का कहना है की!
– जस्टिस प्रतिभा रानी ने अपने फैसले में कहा- ये अदालत महसूस करती है कि कई बार दोनों शख्स (महिला और पुरुष) आपसी सहमति से संबंध बनाते हैं। जब किन्हीं वजहों से ब्रेकअप हो जाता है तो महिला बदला लेने के लिए कानून का इस्तेमाल हथियार के तौर पर करती है।
– उन्होंने आगे कहा- उसकी कोशिश ये होती है कि आपसी सहमति से बनाए गए संबंध को भी रेप की घटना साबित किया जाए। ऐसा गुस्से या हताशा में किया जाता है।
– हाईकोर्ट ने कहा- जरूरत इस बात की है कि रेप और सहमित से बनाए गए संबंधों में फर्क जांचा जाए। खास तौर पर तब जबकि ऐसा शादी करने के वादे पर हुआ हो।

Share.

About Author

Comments are closed.