भारतीय टीम ने मैच तो नहीं लेकिन लोगों के दिल जरूर जीत लिए |

0

भारतीय टीम ने अपने पहले मैच की तुलना में कल बेहतरीन खेल दिखाया. टीम ने गोल करने के कुछ अच्‍छे मौके भी बनाए. 82वें मिनट में जैक्सन के गोल की बदौलत भारतीय टीम स्‍कोर 1-1 से बराबर करने में भी सफल हो गई थी, लेकिन पेनालोजा ने 83वें मिनट में गोल करते हुए कोलंबिया को फिर 2-1 से जीत दिला दी. कोलंबिया के लिए दोनों गोल जुआन सेबेस्टियन पेनालोजा ने किये.

भारत ने भले ही मैच हारा हो लेकिन अपने प्रदर्शन से वो सबका दिल जीतने में सफल रही. शुरुआती 10 मिनट के खेल में गेंद पर कोलंबियाई टीम का कब्‍जा रहा, लेकिन वहीं मेज़बान टीम ने न सिर्फ कोलंबियाई टीम को रोका बल्कि उनकी सांसे तक अटका दी. अमेरिका के खिलाफ जो टीम खेली उससे यह टीम काफी अलग लग रही थी और टीम का डिफेंडर भी शानदार था. फर्स्ट हाफ में भारत के हाथ कई ऐसे मौके लगे जिससे वह गोल करने के करीब पहुंच गया था, लेकिन किस्मत को यह मंज़ूर नहीं था.

15वें मिनट में निनतोई और बोरिस ने भारत के लिए अच्‍छा मूव बनाया, लेकिन अभिजीत गोल करने से चूक गए. अभिजीत ने मौका न गवाते हुए सीधा गोलपोस्ट पर शॉट दागा लेकिन, विपक्षी टीम का गोलकीपर इतना शानदार था कि उसने यह मौका भी हाथ से छीन लिया. लेकिन मैच ख़त्म होने के 8 मिनट पहले कुछ ऐसा हुआ जिसने दर्शको को अपनी सीट से उठ खड़ा होने पर मजबूर कर दिया. उसी समय जैक्सन ने भारत के लिए पहला गोल मारा और स्कोर को बराबरी पर लाकर रख दिया. लेकिन इस गोल का जश्‍न भारतीय टीम अभी ठीक से मना भी नहीं पाई थी कि 83वें मिनट में पेनालोजा ने मैच का अपना दूसरा गोल दागते हुए कोलंबियाई टीम को फिर 2-1 की बढ़त दिला दी. यह बढ़त मैच के अंत तक कायम रही. इस हार के बाद भारत का अंतिम 16 में जगह बनाना काफी मुश्किल हो गया है.

Share.

About Author

Leave A Reply