Me Too: आमिर खान ने छोड़ी गुलशन कुमार की बायोपिक ‘Mogul’, डायरेक्टर पर लगा है यौन शोषण का आरोप

0

बॉलीवुड में एक्ट्रेसेस ने #MeToo कैंपेन के तहत अपने साथ हुए यौन शोषण के खिलाफ आवाज बुलंद की है, जिसमें कई नामी हस्तियों का घिनौना चेहरा सामने आया है। इसमें डायरेक्टर सुभाष कपूर भी हैं, जिनपर यौन शोषण और छेड़छाड़ का केस चल रहा है। आमिर खान ने सुभाष कपूर द्वारा निर्देशित फिल्म ‘मोगुल’ छोड़ने का फैसला लिया है। एक्ट्रेस गितिका त्यागी के आमिर की पत्नी किरण राव को किए गए ट्वीट के बाद उन्होंने इस फिल्म से अलग होने का फैसला लिया।

आमिर खान अपनी पत्नी किरण राव के साथ सुभाष कपूर की आने वाली फिल्म ‘मोगुल’ को प्रोड्यूस कर रहे थे। टी-सीरीज के फाउंडर गुलशन कुमार की जिंदगी पर आधारित इस फिल्म में बतौर मुख्य लीड भी आमिर खान ही थे। आमिर ने एक बयान जारी कर अपने और किरण के फिल्म से अलग होने का फैसला सुनाया। बयान में आमिर ने कहा, ‘आमिर खान प्रोडक्शन में सेक्सुअल हैरेसमेंट के खिलाफ जीरो टॉलरेंस पॉलिसी है। हम सेक्सुअल हैरेसमेंट और इसमें झूठे आरोपों की कड़ी निंदा करते हैं।’

आमिर ने बयान में किसी का नाम लिए बिना कहा, ‘दो हफ्ते पहले जब #MeToo की शुरुआत हुई, तब हमारे ध्यान में लाया गया कि जिसके साथ हम काम कर रहे हैं उसपर यौन उत्पीड़न का आरोप लगा है। हमने जांच में पाया कि ये मामला न्यायिक विचार के तहत है और इसपर कानूनी कार्रवाई चल रही है।’ आमिर ने कहा कि ‘हम कोई इन्वेस्टिगेटिंग एजेंसी नहीं है और ना ही किसी पर जजमेंट दे सकते हैं, उसके लिए पुलिस और न्यायालय हैं। इसलिए बिना कोई जजमेंट दिए हम खुद को फिल्म से अलग कर रहे हैं।’

आमिर ने कहा कि यही समय है जब फिल्म इंडस्ट्री आत्मनिरीक्षण कर बदलाव की तरफ ठोस कदम उठा सकती है। ‘महिलाएं लंबे समय से यौन उत्पीड़न का शिकार हो रही हैं। इसे रोकना होगा।’ बता दें कि आमिर खान टी-सीरीज के फाउंडर गुलशन कुमार के जीवन पर आधारित फिल्म में काम कर रहे थे, जिसका निर्देशन सुभाष कपूर के हाथों में था । इस फिल्म को टी-सीरीज के अलावा आमिर और किरण राव प्रोड्यूस कर रहे थे। सुभाष कपूर पर 2014 में एक्ट्रेस गितिका त्यागी ने यौन उत्पीड़न और छेड़छाड़ का केस दर्ज करवाया था।

हाल ही में देश में #MeToo के जोर पकड़ने के बाद एक्ट्रेस गितिका त्यागी ने सुभाष कपूर को लेकर ट्वीट किया था। गितिका ने लिखा था, ‘हालांकि मुंबई फिल्म फेस्टिवल ने खुद को #MeToo कैंपेन में आए नामों से अलग कर लिया था, लेकिन मैं आशा करती हूं कि इसकी अध्यक्ष किरण राव को याद है कि उनके पति आमिर खान सुभाष कपूर के साथ काम कर रहे हैं, जिनपर यौन उत्पीड़न और छेड़छाड़ का आरोप लगा है।’ पूरे विवाद के बाद डायरेक्टर सुभाष कपूर ने भी अपना बयान जारी किया है।

सुभाष कपूर ने अपने बयान में कहा, ‘मैं आमिर खान और किरण राव के फैसले को समझता हूं और उसकी इज्जत करता हूं। क्योंकि मामला कोर्ट में है, मैं अपनी बेगुनाही वहीं साबित करना चाहूंगा। लेकिन मैं एक सवाल पूछना चाहता हूं, क्या एक रोती हुई महिला को बिना उसकी इजाजत के रिकॉर्ड करना और उसे सोशल मीडिया पर अपलोड करना हैरेसमेंट नहीं है? या फिर ये सही है अगर वह किसी ऐसे व्यक्ति से संबंधित है जिस पर कथित रूप से गलत आचरण का आरोप लगाया गया है। अगर आपका जवाब दूसरा है, तो फिर मेरे लिए ये खाप पंचायत की सोच से ज्यादा कुछ नहीं है।’

पिछले एक हफ्ते में #MeToo ने देश में काफी जोर पकड़ा है। नाना पाटेकर के खिलाफ यौन शोषण का आरोप लगा तनुश्री दत्ता ने देश में दोबारा #MeToo की शुरुआत की थी, जिसके बाद कई महिलाओं को इसपर बोलने की हिम्मत मिली। इसके बाद देखने को मिला कि फिल्म इंडस्ट्री से लेकर राजनीति तक में ऊंचे ओहदे पर बैठे पुरुषों ने महिलाओं का यौन उत्पीड़न किया है। बॉलीवुड में ‘संस्कारी’ नाम से मशहूर आलोक नाथ पर भी यौन उत्पीड़न का आरोप लगा है। लेखक विंता नंदा और एक्ट्रेस संध्या मृदुल ने उनपर ये आरोप लगाया है।

Share.

About Author

Leave A Reply