फिल्म ‘पद्मावती’ के रिलीज़ के खिलाफ आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई है ।

0

साल की सबसे ज्यादा चर्चित फिल्म ‘पद्मावती’ के लिए लगातार पुरे देशभर में विरोध हो रहे है. फिल्म के रिलीज़ के खिलाफ दायर याचिका की आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई है. याचिकाकर्ता सिद्धराज सिंह चूडास्मा का ये कहना है कि फिल्म ‘पद्मावती’ में रानी पद्मिनी और अलाउद्दीन के गलत चित्रण को दिखाया गया है. और ये राजपूत समाज को आहात दे सकता है. इसलिए समाज के सभी लोगो को इस बात का मौका मिलना चाहिए कि रिलीज़ के पहले वे फिल्म पहले उन लोगो को दिखा दे. साथ ही याचिका में ये भी लिखा है कि डायरेक्टर ने इसे बनाने में कुछ ज्यादा ही स्वतंत्रता ली है और तथ्यों के साथ छेड़छाड़ किया है. फिल्म के गाने में रानी पद्मावती घूमर डांस करती नजर आ रही हैं, जबकि राजघराने की रानियां घमूर और ठुमके नहीं लगाती थीं. इसके साथ ही दीपिका के कपड़ों के कॉस्टयूम पर भी सवाल उठाया गया है. पद्मावती के बारे में पूरी जानकारी हासिल कर लेने के बाद ही फिल्म को रिलीज किया जाए.
इस मामले में फिल्म के डायरेक्टर ‘संजय लीला भंसाली’ ने दो दिन पहले ही एक वीडियो शेयर कर अपनी प्रतिक्रिया जनता के सामने रखी है. वीडियो में भंसाली ने साफ़ किया है कि फिल्म में पद्मावती और अल्लाउद्दीन के बीच कोई भी ड्रामा सीक्वल नहीं है. साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि दीपिका और रणवीर ने एक बार भी फिल्म का कोई भी सीन साथ में शूट तक नहीं किया है. अब देखना तो ये है इस मामले में सुप्रीम कोर्ट क्या फैसला लेता है.

Share.

About Author

Leave A Reply