Navaratri 2018: माता रानी को खुश करने के लिए अपने सीने पर स्थापित किए 21 कलश

0

देश भर में नवरात्री का त्यौहार बड़े ही उस्ताह के साथ मनाया जा रहा है। 10 अक्टूबर से शुरू हुए इस नवरात्री के त्यौहार में लोग अलग अलग तरीकों से माता रानी को मनाने में लगे हुए हैं। नवरात्रि के पावन मौके पर कलश स्थापना का अलग ही महत्त्व है। इस बार नवरात्रों में माता की भक्ति का एक अनोखा मामला सामने आया है। माता का एक ऐसा भक्त जो माता रानी की भक्ति में इतना डूब जाता है कि बाकी दुनिया को पूरी तरह से भूल जाता है।

जिस भक्त के बारे में हम बात क्र रहे हैं। वो पिछले 22 सालों से लगातार नवरात्रि के समय पटना के नवलखा मंदिर में कलश की स्थापना करते हैं। वैसे तो नवरात्रि में हर कोई ही कलश स्थापना करके माता रानी की पूजा अर्चना करता है। लेकिन इस भक्त की बात अलग है। क्योंकि ये कलश अपने सीने पर स्थापित करते हैं। 1 या 2 नहीं पूरे 21 कलश अपने सीने पर स्थापित कर मां दुर्गा की पूजा करते हैं।

पटना निवासी नागेश्वर बाबा पिछले 22 सालों से लगातार ऐसा करते आए हैं। इस मामले में वो कहते हैं, ” मुझे ये शक्ति मां दुर्गा से मिलती है। मैं नवरात्रि के 15 दिन पहले से ही उपवास रखना शुरू कर देता हूँ।” गौरतलब है कि नागेश्वर बाबा की इस भक्ति भाव को देखते हुए अन्य भक्त बाबा द्वारा स्थापित कलश और माता रानी का आशीर्वाद लेने के लिये यहां आते रहते हैं।

अपने सीने पर कलश स्थापित करने के बाद नागेश्वर बाबा ना ही कुछ खाते-पीते हैं और ना ही हिलते-डुलते हैं। हर साल वो एक एक करके कलश की संख्या बढ़ाते जा रहे हैं। दरभंगा के रहने वाले नागेश्वर बाबा का इस बारे में कहना है कि मां दुर्गा ने सालों पहले सपने में आकर उन्हें ऐसा करने को कहा था।

Share.

About Author

Leave A Reply