‘हिंदू आतंकवाद’ के बयान पर घिरे दिग्विजय सिंह, कांग्रेस नेताओं ने ही जताया विरोध

0

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने विवादित बयान देते हुए कहा कि जितने भी हिंदू धर्म वाले आतंकी पकड़े गए हैं वो संघ के कार्यकर्ता रहे हैं। इस बयान पर दिग्विजय सिंह घिरते नजर आ रहे हैं। एक कांग्रेस नेता ने भोपाल में एक अंग्रेजी अखबार से बात करते हुए कहा कि पार्टी को दिग्विजय के बयानों से नुकसान पहुंचता है। हमारे पास जब भाजपा को हराने के हजारों कारण हैं तो ऐसे बयान जारी करने की कोई जरुरत नहीं है।’

दिग्विजय सिंह के बयान पर कई कांग्रेसी नेता सहमत नजर नहीं आते। लेकिन, खुलकर दिग्विजय सिंह के खिलाफ बोलने को कोई तैयार नहीं है। भले ही कई कांग्रेसी नेता दिग्विजय सिंह के बयान का विरोध कर रहे हों लेकिन पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने दिग्विजय सिंह का बचाव किया।

वहीं, दिग्विजय सिंह के बयान पर भाजपा नेता और राज्यसभा सदस्य प्रभात झा ने कहा कि, ‘उनके बयानों से बीजेपी-आरएसएस को फायदा पहुंचता है। दिग्विजय सिंह के बयानों से लगता है कि उन्हें कांग्रेस में भी कोई गंभीरता से नहीं लेता है। कांग्रेस ने मध्यप्रदेश में किस तरह की आंतरिक कलह से बचने के लिए दिग्विजय सिंह को सभी जिम्मेदारियों से मुक्त कर दिया है। ऐसे में उनका भाजपा और आरएसएस पर कुछ भी बोलना कोई अहमियत नहीं रखता है। ना ही भाजपा में कोई दिग्विजय सिंह को गंभीरता से लेता है और ना ही कांग्रेस में।’

बता दें, हाल ही में आरएसएस पर हमला बोलते हुए दिग्विजय सिंह ने कहा था कि जो भी हिंदू आतंकी गतिविधि में गिरफ्तार होता है उसका संबंध आरएसएस से होता है। मध्य प्रदेश के सागर जिले में एक कार्यक्रम के दौरान बोलते हुए दिग्विजय सिंह ने कहा कि नाथूराम गोड़से ने महात्मा गांधी की हत्या की थी और वह भी राष्ट्रीय स्वंय सेवक संघ का हिस्सा था। उनके इस बयान के बाद काफी विवाद हुआ था।

Share.

About Author

Leave A Reply