हरियाणा रोडवेज कर्मचारियों की हड़ताल और चार दिन बढ़ी

0

हरियाणा रोडवेज कर्मचारी तालमेल कमेटी ने पिछले 14 दिनों से चल रही हड़ताल को आज चार दिन और बढ़ाने की घोषणा की। कमेटी ने यहां जारी बयान में कहा कि परिवहन विभाग का निजीकरण करने की प्रदेश सरकार जिद और हठधर्मिता के खिलाफ हड़ताल दो नवंबर तक बढ़ाई जा रही है। कमेटी ने हड़ताल में सहयोग देने वाले कर्मचारी संगठनों, जन संगठनों, छात्र वर्ग एवं आम जनता का आभार जताते हुए रोडवेज कर्मचारियों से भी आह्वान किया कि वे कर्मचारियों व कर्मचारी नेताओं की गिरफ्तारी से बिल्कुल भी न घबराएं और पूरी ईमानदारी से अपने मोर्चे पर डटे रहें। एक संयुक्त बयान में तालमेल कमेटी के वरिष्ठ सदस्य दलबीर किरमारा, हरिनारायण शर्मा, जयभगवान कादियान, सरबत सिंह पूनिया, पहल सिंह तंवर, अनूप सहरावत, ओमप्रकाश ग्रेवाल व रमेश सैनी ने कहा कि कुछ कर्मचारी नेताओं को गिरफ्तार करके सरकार इस हड़ताल को तोडऩे का प्रयास कर रही है, लेकिन सरकार को समझ लेना चाहिए कि रोडवेज का एक-एक कर्मचारी विभाग को बचाने के लिए खड़ा है।

कमेटी ने एक बार फिर सरकार से अपील की कि वह हठधर्मिता छोड़े और बातचीत से समस्या का समाधान निकाले। उन्होंने यह भी कहा कि कहा कि रोडवेज के निजीकरण के खिलाफ प्रदेश के तमाम विभागों के कर्मचारी 30 व 31 अक्तूबर (मंगलवार व बुधवार) को हड़ताल पर जा रहे हैं। सर्व कर्मचारी संघ से जुड़ी यूनियनों के कर्मचारियों ने रोडवेजकर्मियों की हड़ताल के समर्थन में दो दिन की हड़ताल की घोषणा की। इससे पानी, बिजली, सफाई सेवाएं प्रभावित होंगी। हरियाणा कर्मचारी महासंघ से जुड़ी कर्मचारी यूनियनें पहले से हड़ताल में शामिल हैं।

Share.

About Author

Leave A Reply