बिहार: चोरी के आरोप में भीड़ ने एक युवक को पीट-पीटकर मारा डाला

0

बिहार के वैशाली में चोरी के आरोप में एक शख्स की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। हत्या करने के बाद युवक को उसी स्थिति में छोड़कर चले गए। पुलिस को घटना की जानकारी हुई तो मौके पर पहुंचकर शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया। पोस्टमॉर्टम के बाद पुलिस ने शव को आनन-फानन में दफना दिया। घटना दो दिन पुरानी बताई जा रही है।

वायरल तस्वीर वैशाली थाना के मनपुरा की बताई जा रही है। इस तस्वीर में साफ तौर पर देखा जा सकता है कि 42 वर्षीय मोहम्मद रियाज लहूलुहान हालात में है और उसे एक खंभे में बांधकर कर रखा गया है। भीड़ की पिटाई से लहूलुहान मोहम्मद रियाज खंभे में बंधा दिख रहा है। रियाज को लोगों ने चोरी के आरोप में पकड़ और भीड़ ने उसे बेरहमी से इतना पीटा की उसने दम तोड़ दिया। बता दें कि इस पूरे वाक्या का एक वीडियो भी सामने आया है। वीडियो बनाने वाला शख्स लगातक उससे चोरी के बारे में पूछ रहा है।

रियाज अपने साथ दो और साथियों के बारे में बताता है। वीडियो में उसने अपने दो साथियों के साथ एक लाख रुपए की चोरी करना भी कबूला। एक शख्स ने पूरे मामले का वीडियो भी बनाया था। वीडियो बनाने के बाद उसकी निर्ममता से पीट-पीट कर हत्या कर दी गई। वीडियो वायरल होने के बाद रियाज के परिजनों को घटना की जानकारी हुई तो वह शव लेने थाने पर पहुंच गए। आरोप है कि पुलिस ने उन्हें थाने से भगा दिया, जिससे आक्रोशित होकर ग्रामीणों ने थाने में जमकर हंगामा किया।

घटना से भड़के परिजनों ने वैशाली थाना के मनपुरा में सड़क जाम कर दिया। इस मामले को लेकर मृतक के परिजनों ने पुलिस पर भी गंभीर आरोप लगाए हैं। परिजनों का कहना है कि ग्रामीणों द्वारा पीट-पीटकर हत्या करने के बाद पुलिस ने मृतक मोहम्मद रियाज उर्फ राजू केशव को आनन फानन में दफना दिया। परिजनों ने आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग के साथ पुलिस पर लापरवाही बरतने का भी आरोप लगाया है। परिजनों ने रिजाय की हत्या में शेख सलीम, सविना खातून, शहीद मियां, मोहम्मद आले, मोहम्मद सेराज और मोहहमद मुन्ना पर आरोप लगाया है।

Share.

About Author

Leave A Reply