एक झपकी ने खत्म कर दिया पूरा परिवार

0

रुड़की के पास एक कार अचानक बेकाबू होकर पेड़ से टकरा गई। हादसे में पूरा परिवार उजड़ गया। कार चला रहे सुनील बंसल (35 साल), पत्नी सोनिया (28 साल), बेटी दीया (6) और एक 9 महीने की बच्ची मानसी की मौके पर ही मौत हो गई। सुनील के दूसरे पारिवारिक मेंबरों में बेबी रानी, पिंकी और एक 6 साल की लड़की जख्मी हो गई थी। उनको सिविल अस्पताल फतेहगढ़ साहिब के डॉक्टरों ने फर्स्ट एड के बाद चंडीगढ़ रेफर कर दिया।

सूचना के बाद मौके पर फतेहगढ़ साहिब के एएसपी डॉ. रवजोत ग्रेवाल, थाना मुल्लेपुर एसएचओ प्रदीप सिंह बाजवा पहुंचे। उन्होंने घायलों और मृतकों को कार से बाहर निकलवाया। थाना प्रभारी प्रदीप सिंह ने बताया कि स्विफ्ट कार सवार कैथल (हरियाणा) से जगराते में शामिल होकर लुधियाना आ रहा था।मंगलवार दोपहर रुड़की के पास ड्राइवर सुनील कुमार से कार बेकाबू हो गई और कार पेड़ से टकरा गई। उन्होंने आशंका जताई कि हो सकता है कि ड्राइवर को नींद आ गई हो। अभी जांच जारी है। उसके बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

हादसे का पता चलते ही लुधियाना के जनता एनक्लेव में मातम छा गया। 33 फुटा रोड ग्यासपुरा में उनके साले सोनू मित्तल व संदीप मित्तल के घर पर अफसोस करने वालों का जमावड़ा लग गया। संदीप मित्तल ने बताया कि एक साल में ही सुनील का परिवार खत्म हो गया। उसके बड़े भाई अनिल भी अलग रहते हैं जो कि कारोबार करते हैं। सुनील के मां-बाप उसी के साथ रहते थे। कुछ समय पहले बीमारी के कारण दोनों की मौत हो गई थी। परिवार से अलग होने के बाद सुनील ने कोठी बनाई थी। सुनील की पत्नी सोनिया अपने तीन भाइयों की इकलौती बहन थी।

Share.

About Author

Leave A Reply