विश्व पुस्तक मेला: दर्शकों को आकर्षित रही 30 किलो की वेद पुस्तक, 21 घंटे की बोलती रामायण

0

विश्व पुस्तक मेले में साहित्य और प्रतियोगी पुस्तकों के बीच ‘बोलती रामायण’ पाठकों के आकर्षण का केंद्र बनी है। इसकी खासियत यह है कि एक बटन दबाते ही 21 घंटे में तुलसीदास रचित रामचरित मानस के पाठ का आनंद लिया जा सकता है।

रामायण के साथ ही भगवत गीता, गणेश चतुर्थी, महामृत्युजंय मंत्र, हनुमान चालीसा भी 23 घंटे के ऑडियो प्रारूप में उपलब्ध हैं। विक्रेता अभय माहेश्वरी के अनुसार, पुस्तक मेले में छूट के साथ डिवाइस 1600 रुपये में उपलब्ध है। इसकी खास बात यह है कि इसे बिजली से चार्ज किया जा सकता है, जबकि मोबाइल की बैट्री पर डिवाइस काम करती है।

स्टॉल नंबर 179 पर मौजूद : पुस्तक मेले के हाल नंबर 12 ए के स्टॉल नंबर 179 में बोलती रामायण बेच रहे अभय माहेश्वरी कहते हैं कि एक बड़े उद्योगपति घर पर रामायण पाठ कराना चाहते थे। इसके लिए उन्हें ऑडियो रूप में रामायण की तलाश थी। उन्होंने मुझसे संपर्क किया। इसके बाद रामायण तैयार करने का फैसला लिया गया। अजय मुदंडा की आवाज में पूरे 21 घंटे की रामायण को रिकॉर्ड किया गया। इसे बाद में प्रचारित करने के लिए ब्रिक्री के लिए रखा गया है।

30 किलो की वेद पुस्तक : विश्व पुस्तक मेले में 30 किलों की वेद पुस्तक भी लोगों के आकर्षण का केंद है। चारों वेदों को चार हजार से अधिक पृष्ठों में संकलित किया गया है। यह संस्कृत व हिंदी से तेलगू अनुवाद है। 15 इंच चौड़ी, बीस इंच लंबी इस पुस्तक को तेलांगना निवासी डॉ. एम कृष्णा रेड्डी ने तैयार किया है। इसके लिए उन्होंने प्रिंसिपल का भी पद छोड़ दिया। 25 वर्ष की मशक्कत के बाद यह पूरा हुआ।

Share.

About Author

Leave A Reply