तेजप्रताप के बयान पर JDU नेता का तंज- असामाजिक तत्वों का खुलासा करें तेजस्वी

0

जेडीयू के प्रवक्ता और विधान पार्षद नीरज कुमार ने बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि वह पार्टी से असामाजिक लोगों के नाम का खुलासा करने को कहा है। उन्होंने कहा है कि तेजस्वी उन सभी लोगों के नाम का खुलासा करें जिनका ज्रिक खुद उनके भाई तेजस्वी यादव ने किया है।

नीरज ने कहा कि अब तो यह सच साबित हो गया कि आरजेडी ने राजनीति में ‘लंपटीकरण’ की शुरुआत की है। उन्होंने कहा कि तेजस्वी जी आशा है कि दुष्कर्म के मामले में आरोपी विधायक राजवल्लभ यादव, कई संगीन मामलों में संलिप्त पूर्व सांसद शहाबुद्दीन के बाद आरजेडी में और कौन असामाजिक लोग हैं, जिन्हें आप पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाएंगे। उन्होंने कहा कि राजनीति में किसी नेता या कार्यकर्ता को ही एमएलसी, एमएलए, सांसद बनाया जाता है, वह बाहर का व्यक्ति नहीं होता। आरजेडी के प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे जी तो राजनीति में बहुत वरिष्ठ हैं और आपके भाई द्वारा उन्हें सार्वजनिक तौर पर अपमान करना राज्य की जनता को भी पसंद नहीं आया।

नीरज ने आरजेडी के प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्वे से भी सवाल किया कि आखिर अब और कितना अपमान सहेंगे? लगता है कि आपने एमएलसी के एवज में अभी तक कोई जमीन या संपत्ति इस परिवार के नाम नहीं की जिसकी वजह से आपको आज एमएलसी बनने के कारण सार्वजनिक रूप से अपमान झेलना पड़ा। बता दें कि लालू के बड़े बेटे व पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव ने पार्टी में असमाजिक तत्वों के जमावड़े व अपनी उपेक्षा के आरोप लगाकर पार्टी में मतभेद को सार्वजनिक कर दिया था। उनका मानना है कि अब पार्टी में उनकी सुनवाई नहीं हो रही है।

इस संबंध में तेजप्रताप ने ट्वीट किया। ट्वीट के जरिए उन्होंने खुद को कृष्ण और तेजस्वी को अर्जुन बताया था। इस ट्वीट में तेज प्रताप ने कहा, ‘मेरा सोचना है कि मैं अर्जुन को हस्तिनापुर की गद्दी पर बैठाऊं और खुद द्वारका चला जाऊं। अब कुछेक चुगलखोरों को कष्ट है कि कहीं मैं किंग मेकर न कहलाऊं।’

Share.

About Author

Leave A Reply