बुराड़ी केस में क्या है उज्जैन के तांत्रिक का कनेक्शन, खुला एक और राज

0

दिल्ली के बुराड़ी इलाके में घर के अंदर मिली एक ही परिवार की 11 लाशों का सच आखिर क्या है? क्या परिवार के छोटे बेटे ललित ने रूहानी ताकत के नाम पर 11 लोगों को आत्महत्या के लिए तैयार किया? या बाहर के किसी व्यक्ति ने इस वारदात को अंजाम देकर मामले को आत्महत्या का रूप दिया? क्राइम ब्रांच टीम की जांच फिलहाल इन्हीं सवालों के आसपास उलझी है। लगातार हो रहे खुलासों के बीच बुराड़ी केस में अब रहस्य से भरा एक और तथ्य सामने आया है। उज्जैन में डेढ़ साल पहले भाटिया परिवार द्वारा कराई गई पूजा से जुड़े इस तथ्य से केस में नया मोड़ आ गया है।

क्राइम ब्रांच को कुछ सूत्रों से जानकारी मिली है कि परिवार और भांजी प्रियंका से जुड़ी कुछ परेशानियों के समाधान के लिए करीब डेढ़ साल पहले ललित घर के लोगों को मध्य प्रदेश की धार्मिक नगरी उज्जैन लेकर गया था। समस्याओं के समाधान के लिए ललित ने उज्जैन की भृतहरि गुफा में एक तांत्रिक से विशेष तंत्र-मंत्र क्रिया कराई। पूजा के बदले में जब तांत्रिक ने लाखों रुपए की मांग की तो ललित ने इतने पैसे देने में असमर्थता जताई। इसके बाद गुस्साए तांत्रिक ने पूरे परिवार के नाश का श्राप दे दिया। इससे घबराया भाटिया वापस दिल्ली लौट आया और घर में ही पूजा-पाठ शुरू कर दिया।

जांच टीम को घर के अंदर से मिले रजिस्टरों में लिखी बातों से पता चला है कि भाटिया परिवार के लोग दिन में तीन बार पूजा के लिए बैठते थे। इसमें से पहली पूजा सुबह 8 बजे, दूसरी पूजा दोपहर 12 बजे और तीसरी पूजा रात के दस बजे होती थी। तीसरी पूजा में परिवार के हर सदस्य का शामिल होना जरूरी था। पूजा संबंधी सभी निर्देश ललित ही देता था। पूजा में शामिल ना होने वाले सदस्यों को ललित सजा भी देता था। परिवार के लोग हनुमान को बहुत मानते थे और पूजा के दौरान हनुमान चालीसा का पाठ भी होता था।

दिल्ली पुलिस को इस केस में अब तक जितने भी सुराग मिले हैं, उनसे एक बात स्पष्ट है कि मामले में अंधविश्वास के कई तार जुड़े हैं। पुलिस को इस केस में अभी तक कुल चार सीसीटीवी कैमरों की फुटेज मिली है। एक फुटेज में जहां घटना वाली रात भुवनेश की पत्नी और बेटी स्टूल लेकर घर के अंदर जाती हुईं नजर आ रही हैं, वहीं दूसरी फुटेज में ललित और भुवनेश अपनी दुकानें बंद कर रस्सी और तार लेकर घर की पहली मंजिल पर जा रहे हैं। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस यह भी मान रही है कि भाटिया परिवार 5 दिन से इस विशेष पूजा की तैयारी कर रहा था।

Share.

About Author

Leave A Reply