फतेहपुर में विक्रमशिला एक्सप्रेस के इंजन पर चढ़ा युवक जिंदा जला

0

विक्रम शिला एक्सप्रेस के इंजन पर चढ़ा एक युवक बीती रात जिंदा जल गया। स्टेशन से गुजरते समय पेंटों में जोरदार स्पार्किंग होने पर चालक ने ट्रेन रोक दी। छानबीन में शव दिखने पर ओएचई पावर ब्लाक कर उसे नीचे उतारा गया। करीब दो घंटे तक ट्रेन खड़ी रही। युवक की पहचान नहीं हो सकी है। जीआरपी ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

भागलपुर से आनंद बिहार जा रही विक्रम शिला एक्सप्रेस (12367) रात 1.30 बजे स्टेशन पार कर रही थी, तभी इंजन के ऊपर पेंटों में जोरदार स्पार्किंग हुई। आउटर में पहुंचने पर दोबारा स्पार्किंग होने पर चालक ने आशंका पर ट्रेन रोक दी और कंट्रोल रूम को जानकारी दी। सूचना पर एसएस, टीआई, जीआरपी एसओ, ओएचई एसएसई समेत अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे। ओएचई एसएसई ने टार्च की रोशनी से इंजन के ऊपर पड़ताल की, जहां युवक(18) का जला हुआ शव पड़ा था। काली जींस व स्लीपर पहने युवक के शव को उतारने के लिए ओएचई पावर ब्लाक किया गया। पोर्टर वीरेन्द्र चौधरी और ओएचई के कर्मचारियों ने पेंटों में फंसे युवक के शव को नीचे उतारा। करीब दो घंटे बाद 3.25 बजे ट्रेन को कानपुर रवाना किया गया।

जीआरपी एसओ ने बताया कि विक्रम शिला एक्सप्रेस का भागलपुर के बाद मुगलसराय और फिर कानपुर सेट्रल में स्टापेज है। युवक ट्रेन के इंजन में कहां से चढ़ा इसकी जांच की जा रही है। युवक की पहचान नहीं हो सकती है। शव पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है।

Share.

About Author

Leave A Reply