उत्तराखंड पर भारी अगले 7 दिन, मौसम विभाग ने जारी किया जबरदस्त बारिश का अलर्ट

0

मॉनसून की बारिश से जहां मैदानी इलाकों में पानी भर गया है, वहीं पहाड़ी इलाकों के लिए ये बारिश आफत बनकर आई है। उत्तराखंड में मॉनसून की बारिश से पहले से ही बाढ़ के हालात हैं, अब मौसम विभाग ने चेतावनी जारी कर कहा है कि अगले एक हफ्ते प्रदेश में भारी बारिश हो सकती है। शनिवार रात से लेकर 27 जुलाई तक उत्तराखंड के पहाड़ों पर बादल जोर से बरस सकते हैं। विभाग ने पहाड़ों पर जाने वाले यात्रियों को सावधानी बरतने को कहा है।

उत्तराखंड के पहाड़ों पर बादल फटने की घटनाओं से पहले ही प्रदेश में बाढ़ के हालात हैं। प्रदेश की अधिकतर नदियां उफान पर हैं, ऐसे में मौसम विभाग का अलर्ट परेशान करने वाला है। देहरादून स्थित मौसम विभाग ने अगले 7 दिन भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग के अनुसार शनिवार रात से लेकर 27 जुलाई तक इस पहाड़ी राज्य में जबरदस्त बारिश हो सकती है। वहीं रविवार यानी 22 जुलाई को मूसलाधार बारिश की आशंका जताई है। रविवार को बाकी दिनों के मुकाबले ज्यादा बारिश हो सकती है।

उत्तराखंड के पहाड़ों पर बादल फटने की घटनाओं से पहले ही प्रदेश में बाढ़ के हालात हैं। प्रदेश की अधिकतर नदियां उफान पर हैं, ऐसे में मौसम विभाग का अलर्ट परेशान करने वाला है। देहरादून स्थित मौसम विभाग ने अगले 7 दिन भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग के अनुसार शनिवार रात से लेकर 27 जुलाई तक इस पहाड़ी राज्य में जबरदस्त बारिश हो सकती है। वहीं रविवार यानी 22 जुलाई को
मौसम विभाग ने पहाड़ों की तरफ जाने वाले यात्रियों को सावधान रहने के लिए कहा है। उत्तराखंड में मॉनसून शुरू होते ही जगह-जगह बादल फटने की घटनाएं हो रही हैं। शुक्रवार को चमोली जिले के मालारी क्षेत्र में बादल फट गया, जिससे चारों तरफ तबाही का मंजर फैल गया। बादल फटने की घटना जोशीमठ से करीब 50 किमी दूर नीती बार्डर एरिया में हुई है, जिसके बाद बदरीनाथ हाईवे लामबगड़ को बंद कर दिया है। बता दें कि इसी इलाके में उससे दो दिन पहले भी बादल फटा था, जिसमें कई मवेशी और दुकानें बह गई थीं।

धर्म नगरी हरिद्वार में भी बारिश से हालात खराब हो गए हैं। पिछले दो दिनों से हो रही बारिश के कारण गंगा के साथ बरसाती नदियों में भी खूब पानी आ रहा है। हरिद्वार के खड़खड़ी में नदी इतनी उफान पर थी कि शुक्रवार को उसमें एक गाड़ी बह गई। पहाड़ों और मैदानी इलाकों में हो रही जबरदस्त बारिश से नदि में काफी पानी आ रहा है। ऐसे में एक गाड़ी इसके तेज बहाव में बह गई। हरिद्वार के पॉश इलाके रानीपुर मोड़ पर भी बारिश से घुटनों तक पानी भर गया है।

मॉनसून की बारिश सिर्फ उत्तराखंड ही नहीं, बल्कि पूरे देश के लिए आफत बनकर आई है। जहां पहाड़ी इलाकों में बारिश से नदियां उफान पर हैं, वहीं मैदानी इलाकों में जगह-जगह जलभराव की स्थिति पैदा हो गई है। मौसम विभाग ने ताजा बुलेटिन जारी कर बताया है कि ओडिशा, छत्तीसगढ़ और तेलंगाना के अलग-अलग स्थानों पर भारी गिरावट के साथ बादल गरज सकते हैं। इन राज्यों के तटीय इलाकों पर मछुआरों को न जाने की सलाह दी गई है।

Share.

About Author

Leave A Reply