दिल्ली हाई कोर्ट में जेटली और जेठमलानी के बीच हुई तीखी बहस।

0

नई दिल्ली। अरुण जेटली ५/२ अरविंद केजरीवाल मानहानि मामले में बुधवार को दिल्ली हाई कोर्ट में अरविंद केजरीवाल के वकील राम जेठमलानी और अरुण जेटली के वकीलों के बीच जमकर तीखी नोंकझोंक हुई। राम जेठमलानी ने इंडियन एक्सप्रेस में लिखे अपने लेख को अरुण जेटली को दिखाया और पूछा कि क्या आपने इसे पढ़ा है। तो अरुण जेटली के वकीलों ने इस पर आपत्ति जताई। कई बार राम जेठमलानी ने यही सवाल पूछे और जेठलमलानी ने बोला अरुण जेटली चोर हैं और मैं साबित करूंगा।
इस पर अरुण जेटली ने कहा, क्या अरविंद केजरीवाल ने आपको अनुमति दी है यह शब्द कहने के लिए, अगर दी है तो मैं मानहानि की राशि 10 करोड़ बढ़ाने वाला हूं। इसके बाद जेटली ने ये भी कहा कि अपमान की एक सीमा होती है।
जेटली-केजरीवाल मानहानि मामले में बुधवार को भी हाई कोर्ट में तीखी बहस के बीच जेटली ने कहा, जेठमलानी अपनी खुद की दुश्मनी निकाल रहे हैं। अगर इसी तरह के दुर्भावनापूर्ण सवाल पूछे जाएंगे तो मैं अपनी मानहानि की 10 करोड़ की रकम को बढ़ा सकता हूं। गौरतलब है कि जेठमलानी लगातार अपने सवालों में अरुण जेटली के लिए क्रूक शब्द का इस्तेमाल कर रहे थे जिस पर जेटली और उनके वकीलों ने सख्त ऐतराज किया।
जेटली ने कहा कि आप निजी जिंदगी को लेकर हमले कर रहे हैं यह ठीक नहीं है। इसके बाद जेठमलानी ने कहा कि मैं अपने क्लाइंट की मर्जी से मिल रहा हूुंं। और हमेशा अपने क्लाइंट से केस से समझने के लिए मिलता हूं।
राम जेठमलानी ने कोर्ट में यह भी कहा कि काला धन लाने में मैंने जितनी लड़ाई लड़ी अरुण जेटली ने उस पर पानी फेर दिया। अरविंद केजरीवाल के दूसरे काउंसिल ने कोर्ट से दूसरे दिन का समय मांगा। जिस पर कोर्ट ने सुनवाई के लिए 28 और 31 जुलाई की तारीख दे दी है।
जेठमलानी लगातार अपने सवालों में अरुण जेटली के लिए क्रूक शब्द का इस्तेमाल कर रहे थे जिस पर जेटली और उनके वकीलों ने सख्त ऐतराज किया।

Share.

About Author

Comments are closed.