देश के कई राज्यों में भारी बारिश से जीवन बेहाल, राजस्थान में घर ढहने से मां-बेटी की मौत

0

देश के कई हिस्सों में बारिश हो रही है। इस बारिश के चलते कुछ जगह जानमाल की हानि की भी ख़बर आई है। भारतीय मौसम विभाग ने शुक्रवार को कहा कि मानसून तय समय से 17 दिन पहले ही पूरे देश में पहुंच गया है। आज यूपी, पंजाब, उत्तराखंड समेत पूर्वोत्तर में बारिश का अनुमान है।

हिमाचल के चंबा, शिमला और मनाली में बारिश से पर्यटन को बड़ा नुकसान हुआ है। जम्मू कश्मीर के दक्षिण इलाकों अनंतनाग, कुलगाम में बाढ़ जैसे हालात हैं। जम्मू कश्मीर के दक्षिण इलाकों अनंतनाग, कुलगाम में बाढ़ जैसे हालात हैं। मनाली लेह नेशनल हाईवे पर मढ़ी के पास भी पहाड़ों से चट्टानें गिरी हैं, जिसकी वजह से 7 घंटे हाईवे ठप रहा। सैकड़ों पर्यटक फंसे रहे।

बारिश की वजह से राजस्थान के बीकानेर में एक घर ढह गया, जिससे मां और बेटी की मौत हो गई। यहां के नोखा इलाक़े में बारिश की वजह से पूरा मकान जमीदोंज हो गया। मकान के मलबे में दबकर एक महिला और उसकी बच्ची की मौत हो गई है।

वहीं, राजस्थान के प्रतापगढ़ जिले में पिछले चार दिन से भारी बारिश हो रही है। यहां के प्रतापगढ़ जिले में लगातार बारिश से कई गांव में जल भर चुका है। जिले के करीब 30 गांव बुरी तरह प्रभावित बताए जा रहे हैं। पांचली, रोजड नदी, शिवना और जाखम समेत हर नदी उफान पर है, जिसकी वजह से कई रास्ते बंद हो चुके हैं।

कश्मीर घाटी में भारी बारिश हो रही है, जिसके चलते दक्षिण कश्मीर में बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं। कल शाम तक झेलम नदी में पानी का लेवल 21.34 फीट था जो कि बाढ़ के निशान से ऊपर है, जबकि श्रीनगर में झेलम में जलस्तर 13.34 फीट है, जो खतरे के निशान 16 फीट से थोड़ा नीचे हैं। झेलम का जलस्तर 16 होने पर बाढ़ घोषित हो जाती है।

उत्तराखंड के गढ़वाल इलाके में अलकनंदा नदी का जलस्तर अचानक बढ़ने स्थिति खराब हो गई है। एक मजदूर आनन-फानन में अपनी जान बचाने के लिए ट्रक पर चढ़ गया। काफी मशक्कत के बाद मजदूरों को बचाया गया।

Share.

About Author

Leave A Reply