कांग्रेस सांसद हुसैन दलवई ने राम पर दिए बयान पर मांगी माफी

0

तीन तलाक के मुद्दे पर विवाद रूकने का नाम नहीं ले रहा है। कांग्रेस के एक सांसद ने तीन तलाक को लेकर विवादास्पद बयान दिया था। विवाद बढ़ते ही उन्होंने माफी मांग ली। सांसद हुसैन दलवई ने कहा कि उनके बयान से किसी को भी ठेस पहुंची है, तो वे मांफी मांगते हैं।

दरअसल, कांग्रेस सांसद हुसैन दलवई ने कहा था कि हर समुदाय और हर धर्म में औरतों के साथ भेदभाव किया जाता है। सिख, ईसाई, हिंदुओं में भी होता है। लेकिन निशाना सिर्फ मुस्लिम समुदाय को बनाया जाता है। दलवई ने आगे कहा कि क्या राम ने सीता को छोड़ नहीं दिया था। उन्हें उन पर शक हो गया, इसलिए उनका त्याग कर दिया। वास्तव में ऐसा इसलिए होता है कि क्योंकि हमारा समाज पुरुष प्रधान रहा है।

उनके इस बयान के बाद विवाद बढ़ गया। दूसरी पार्टियों के नेताओं ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से माफी मांगने को कहा। इस पर दलवई ने कहा कि उन्हें माफी मांगने की कोई जरूरत नहीं है। बयान मैंने दिया था, और अब मैं माफी मांग रहा हूं। दलवई ने कहा कि इस समस्या का निदान तभी हो सकता है, जब आप पूरी समस्या को व्यापक नजरिए से देखेंगे।

आपको बता दें कि तीन तलाक को लेकर कांग्रेस पार्टी बिल पर संशोधन चाहती है। सरकार ने जो संशोधन पास किए हैं, उसके अनुसार मजिस्ट्रेट को जमानत देने का अधिकार है। कांग्रेस पार्टी मुख्य रूप से इस प्रावाधान का विरोध कर रही है।

Share.

About Author

Leave A Reply