मैं कोई शहंशाह नहीं जो लोगों के प्यार को नजरअंदाज कर दूं: मोदी

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का कहना है कि वो कोई शहंशाह या ऐसे शासक नहीं हैं, जो लोगों की गर्मजोशी से प्रभावित ना हो और उन्हें नजरअंदाज कर दें, लोगों के साथ संवाद करने से ही उन्हें ताकत मिलती है। स्वराज्य पत्रिका को दिए इंटरव्यू में रोड शो के दौरान अपनी निजी सुरक्षा को लेकर बात करते हुए पीएम मोदी ने ये बात कही। हाल ही में मोदी को जान का खतरा बताने वाली कुछ रिपोर्ट सामने आई थीं, इसी के संदर्भ में उनसे ये सवाल किया गया।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मैं जब भी कहीं जाता हूं, तो देखत हूं कि हर उम्र के लोग सड़कों पर आकर मेरा स्वागत करते हैं, ऐसे में मैं अपनी कार की सीट पर कैसे बैठे रह सकता हूं। मैं बाहर आ जाता हूं और जितने भी लोगों से मिल सकता हूं, मिलता हूं। इंटरव्यू में मोदी ने और भी कई बातों के जवाब दिए।

केंद्र में एनडीए की सरकार आने के बाद नई नौकरियां पैदा ना होने और रोजगार घटने के सवाल पर नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमारे पास नौकरियों पर पर्याप्त आंकड़े मौजूद नहीं हैं। नौकरियों की कमी से ज्यादा, नौकरियों पर आंकड़े की कमी समस्या है। मोदी ने कहा कि नौकरियों की कमी नहीं है इसे ऐसे समझिए कि देश में सामान्य सेवा केंद्रों को चलाने वाले ग्रामीण स्तर पर तीन लाख उद्यमी हैं और ये ज्यादा रोजगार पैदा कर रहे हैं। स्टार्ट-अप नौकरियों की संख्या बढ़ रही है और यहां लगभग 15,000 स्टार्ट-अप्स हैं, जिसे सरकार ने मदद दी है और कइयों का संचालन शुरू होने वाला है।

विपक्ष की पार्टियों के बीच गठबंधन को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि बीजेपी विकास और सुशासन के मुद्दे पर चुनाव लड़ती है। आर्थिक मामलों, सुरक्षा और विदेश नीति के क्षेत्र में सरकार ने अच्छा काम किया है। 2014 के बाद देश के कई भागों में लोगों ने बीजेपी को समर्थन दिया है। लोगों ने जिस प्रकार चुनाव दर चुनाव अपना सहयोग दिया है, उम्मीद है आगे भी वो बीजेपी को फिर से चुनेंगे। 1977 के हालात कुछ और थे, उस वक्त देश आपातकाल के दंश झेल रहा था और लोगों के सामने लोकतंत्र को बचाने की चुनौती थी। जबकि 1989 में बोफोर्स घोटाले के कारण लोगों में काफी गुस्सा था। आज ये पार्टियां अपने स्वार्थ के लिए और अपना राजनीतिक करियर बचाने के लिए महागठबंधन करना चाहती हैं, देशहित में नहीं। उनके पास मोदी हटाओ के अलावा कोई मुद्दा नहीं हैं।

Share.

About Author

Leave A Reply