चिकित्सकों की सेवानिवृत्ति की आयु सीमा को बढ़ाने को लेकर झारखंड विधानसभा में हंगामा ।

0

रांची। झारखंड विधानसभा का मानसून सत्र 4 थे दिन हंगामाखेज रहा। इस सदन में राज्य के स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी ने चिकित्सकों की सेवानिवृत्ति की आयु सीमा को बढ़ाने की मांग से इन्कार कर दिया। मिली जानकारी के अनुसार उक्त उम्र को 65 वर्ष से बढ़ाकर 68 वर्ष करने की मांग की गई थी। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री रामचंद्र चंद्रवंशी ने कहा कि आयु सीमा नहीं बढ़ाए जाने पर वे सख्त हैं। उनका कहना था कि हालांकि जो चिकित्सक सेवानिवृत्त हैं उन्हें जरूर अनुबंध कर व्यवस्था में लिया जा सकता है।
हालांकि भारतीय जनता पार्टी के मुख्य सचेतक राधाकृष्ण किशोर ने बताया कि रिम्स के चिकित्सकों को नन प्रक्टिसिंग एलाउंस दिए जाने के बाद भी वे अपनी प्रक्टिस जारी रखे हुए हैं। जो चिकित्सक प्रायवेट प्रेक्टिस कर रहे हैं उन पर सरकार को कार्रवाई करना चाहिए। उन्होंने कहा कि रिम्स में चिकित्सकों की कमी है। ऐसे में स्वाथ्य मंत्री चंद्रवंशी ने माना कि चिकित्सालय में पैरामेडिकल और मेडिकल स्टाफ की कमी है।
किशोर ने अपने ध्यानाकर्षण में कहा कि 2002 में रिम्स को सुपर स्पेशियलिटी का दर्जा दिया गया। लेकिन यहां सुपर स्पेशियलिटी के अधिकतर विभाग अब तक शुरू नहीं हो सका है। उन्होंने सदन को बताया कि राज्य में 2112 चिकित्सकों की जरूरत है। इसके विरुद्ध 1684 कार्यरत हैं। 428 पद रिक्त हैं। राधाकृष्ण किशोर सदन में कुछ चिकित्सकों को लेकर आए और कहा कि ये प्रायवेट प्रक्टिस करते हैं।
ऐसे में मंत्री ने कहा कि इनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने चिकित्सालय से जुड़े अव्यवस्थाओं पर चर्चा की। जिसमें उन्होंने बताया कि नेफ्रोलॉजी कार्यरत नहीं है। न्यूक्लीयर मेडिसिन की स्थापना नहीं हुई। कैथ लैब के सभी उपकरण 10 वर्ष पुराने हैं। यहां तक कि प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के तहत उपलब्ध कराये गये 262 उपकरणों में 191 अभी तक इंस्टॉल नहीं हुआ है।
हालांकि मंत्री ने कहा कि अब तक केवल 18 उपकरण ही इंस्टॉल नहीं हुए हैं। स्थिति यह है कि चिकित्सालय में न तो सर्पदंश का उपचार उपलब्ध है न ही श्वान अर्थात् कुत्ता काटने के इंजेक्शन उपलब्ध हैं। दूसरी ओर भाजपा विधायक विरंची नारायण ने बोकारो में हुई आईटीआई परीक्षा में धांधली का आरोप लगाया। मंत्री राज पलिवार ने परीक्षा रद्द करने की मांग की। उनका कहना था कि इस परीक्षा का पर्चा लीक हो गया। उन्होंने कहा कि इस मामले में कोई महत्वपूर्ण रैकेट संचालित है जो पर्चे लीक करता है। इसकी जाॅंच की जाना चाहिए।

Share.

About Author

Comments are closed.