आधार संख्या को खाते से जोड़ने पर लेन देन करने में होगी सुविधा

0

केंद्रीय सरकार ने संसद में कहा कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों और निजी क्षेत्र के बैंकों में 52.95 बचत खाते आधार संख्या से जोड़ गये है. केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री संतोष गंगवार ने लोकसभा में एक लिखित जवाब में कहा, सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों और 13 निजी क्षेत्र के बैंकों की सूचि के अनुसार 110.03 करोड़ निजी बचत खाते सक्रिय हालत में हैं जिनमें प्रधानमंत्री जन धन योजना के खाते भी शामिल हैं. इनमें से 52.95 करोड़ खातों को आधार संख्या से जोड़ दिया गया है। बैंक खाताधारकों की सहमति के आधार पर उनके बचत खाते उनके आधार संख्या से जोड़ने के लिए बचनबद्ध हैं। बचत खातों को आधार संख्या से जोड़ने से खाताधारकों को आधार सक्षम भुगतान प्रणाली, भीम एप और प्रत्यक्ष लाभ अंतरण डीबीटी के जरिए धन के हस्तांतरण में सहायता मिलेगी.

Share.

About Author

Comments are closed.